अब क्वारंटीन सेंटर में प्रयुक्त होंगी डिस्पोजेवल चादरें : डीएम

0
57
Listen to this article

अब क्वारंटीन सेंटर में प्रयुक्त होंगी डिस्पोजेवल चादरें : डीएम

देहरादून। जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने पत्रकार वार्ता में 900 चादरों के स्पोर्ट्स कालेज सेंटर से गायब होने पर कार्यवाही के सम्बंध में पूछे गये सवाल पर जानकारी देते हुये बताया कि अब डिस्पोजेबल चादरों की व्यवस्था की जा रही है, जिसे वे अपने साथ ले जा भी सकते हैं।

वहीं जिला सूचना अधिकारी के द्वारा प्रेस नोट के माध्यम से जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया कि राज्य सरकार द्वारा क्वारेंटीन के नियमों में स्थिलता प्रदान की गयी है, जिसमें आने वाले दम्पति जिनके 10 वर्ष तक के छोटे बच्चे हैं एवं  65 वर्ष की आयु के वरिष्ठ नागरिक, गर्भवती महिलांए, परिवारजन की मृत्यु, गम्भीररूप से बीमार व्यक्तियों, जांच उपरान्त नोडल अधिकारी एवं स्वास्थ्य जांच टीम की संस्तुति के उपरान्त अपने घरों में होम क्वारेंटीन  हेतु अनुमत किया गया है। देश के विभिन्न स्थानों से ड्यूटी पर आने वाले थल सेना, जल सेना, वायु सेना एवं अर्ध सैनिक बलों के अधिकारी एवं जवान तथा उनके परिवारजनों हेतु  सम्बन्धित यूनिट द्वारा अपने यूनिट कैम्प में बनाये गये  क्वारेंटीन सेन्टर में रखे जाने हेतु जांच उपरान्त नोडल अधिकारी एवं स्वास्थ्य जांच टीम की संस्तुति के पर सम्बन्धित यूनिट में रखे जाने हेतु  शासन द्वारा अनुमत किया गया है।

जनपद में आतिथि तक लगभग 1400 व्यक्तियों कों क्वारेंटीन किया गया है। जिलाधिकारी ने अवगत कराया है विदेशों एवं अन्य राज्यों से देहरादून लौटने वाले उत्तराखण्ड वासियों को कोरोनेा वायरस संक्रमण कोविड-19 से रोकथाम हेतु भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप 14 दिन के लिए संस्थागत क्वारेंटीन केन्द्रों पर गैर चिकित्सकीय आवश्यक व्यवस्थाओं यथा स्थान, भोजन, बिस्तर, बिजली, पानी, पखें, इत्यादि के अनुश्रवण हेतु शिक्षा विभाग से  शिक्षकगणों को तैनात किया गया है। इसके अतिरिक्त जनपद में चिन्हित/अधिकृत क्वारेंटीन फैसिलिटी में तैनात चिकित्सकीय स्टाप की सहायता हेतु पी.आर.डी स्वयं सेवकों को तैनात किया गया है।

आज जनपद देहरादून रेलवे स्टेशन 1152 व्यक्तियों को विशेष टेªन के माध्यम किशनगंज बिहार भेजा गया है, इस टेªन में हरिद्वार से भी अतिरिक्त कोच जुड़ेंगे तथा वहां से भी श्रमिक अपने गंतव्यों स्थानों को भेजे जायेंगे। इसी प्रकार आज शाम उत्तरप्रदेश के बाराबंकी, गौंडा, गोरखपुर के लिए 1152 व्यक्तियों को लेकर श्रमिक स्पेशल टेªन भेजी जायेगी।

जनपद देहरादून स्थित महाराणा प्रताप स्पोर्टस कालेज रायपुर  से विभिन्न जनपदों के 708 व्यक्तियों को 29 बसों के माध्यम से सम्बन्धित जनपदों में भेजा गया, जिसमें, पिथौरागढ के 79, नैनीताल के 34, अल्मोड़ा के 92, बागेश्वर के 79, अधमसिंहनगर के 7, चम्पावत के 28, टिहरी के 254 पौड़ी के 135 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण एवं थर्मल स्क्रीनिंग के उपरान्त सम्बन्धित जनपदों हेतु भेजा गया। इसी प्रकार जनपद देहरादून से मुजफ्फरनगर उत्तरप्रदेश के 40 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण उपरान्त 1 बस के माध्यम से भेजा गया।

विज्ञप्ति जारी किये जाने तक वायु सेवा के माध्यम से जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट पर पंहुचे 83 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण उपरान्त जनपद में प्रशासन द्वारा अधिग्रहित विभिन्न होटल में संस्थागत क्वारेंटीन किया गया है। इसी प्रकार जनपद के जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट से विभिन्न प्रदेशों के 107 व्यक्ति गंतव्यों हेतु गये।

जनपद के  विभिन्न चयनित स्थानों पर प्रशासन द्वारा अधिकृत 12 मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ते  दरों पर 84.60 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया। जिला प्रशासन की टीम द्वारा जनपद के ऋषिकेश नगर निगम क्षेत्र में अवस्थित आशुतोष नगर/बैराज रोड ऋषिकेश में खाद्य एवं दैनिक उपयोग की आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवाई गयी। जिलापूर्ति विभाग कन्टेंनमेंट आशुतोष नगर/बैराज रोड ऋषिकेश में 2 गैस सिलेण्डर वितरित किये गये। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत आशुतोष नगर/बैराज रोड में 493 उपभोक्ताओं को खाद्यान उपलब्ध कराया गया।

दुग्ध विकास विभाग द्वारा गुरू रोड पटेलनगर में 20, ई.डब्लू.एस ब्लाक एमडीडीए में 25, सेवलाकला कन्टेंमेंट जोन में 20 ली0 आशुतोष नगर में ऋषिकेश में 30 ली0, बैराज कालोनी में 20 कुल 115 ली0 दूध विक्रय किया गया।

जिला प्रशासन की टीम द्वारा स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद अन्तर्गत विकासखण्ड चकराता, विकासनगर, सहसपुर, रायपुर व डोईवाला एवं तहसील सदर में कुल 869 निराश्रित पशुओं जिसमें 480 श्वान, 344 गौवंश एवं 45 अन्य पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया। राम सिंह प्रधान जी दुग्ध विकास समिति रजि0 द्वारा रेनबसेरा पटेलनगर में ठहराये गये आसाम, उत्तरप्रदेश, हिमाचल प्रदेश एवं उत्तराखण्ड के  48 व्यक्तियों को  भोजन उपलब्ध करया जा रहा है।

दून हैप्पी मील्स में श्रीमती ईशा बत्रा, एमडीडीए काम्पलेक्स, विपरित धारा चैकी  द्वारा 5 अन्नपूर्णा किट उपलब्ध कराई गयी। इसी प्रकार किन्डरहिल्पसवर्क एनजीओ काठबंगला राजपुर रोड द्वारा 1000 मास्क, चर्च एक्सलरी फाॅर सोशल एक्शन, पाॅमसिटी द्वारा 500 सेनिटाइजर जिला प्रशासन को उपलब्ध कराये गये।
कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के दृष्टिगत डाॅ ए.के डिमरी, डाॅ जे. एल फिर्मल कृषि निदेशालय के 71 कार्मिकों को  प्रशिक्षण दिया गया तथा उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने हेतु औषधि कावितरण किया गया । प्रधानमंत्री जनधन खाताधारकों द्वारा जनपद में विभिन्न बैंकों से 3099 लाभार्थियों द्वारा अपने जनधन खाते से धनराशि की निकासी की गयी। जनपद में विभिन्न विकासखण्डवार मनरेगा कार्याें के अन्तर्गत आतिथि तक 1041 निर्माण कार्य प्रारम्भ किये गये, जिनमें 14185 श्रमिकों को सैनिटाईजेशन एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन करवाते हुए उक्त कार्य में योजित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया।
कोविड-19 के संक्रमण के  दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 75 काॅल प्राप्त हुई हैं, जिनमें सभी काल पास हेतु प्राप्त हुई।

जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने यह भी अवगत कराया है आज कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत 294 सैम्पल जाचं हेतु भेजे गये तथा 153 सैम्पल प्राप्त हुए जिनमें सभी 3 व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में कोरोना पाॅजिटिव संक्रमितों की संख्या 82 हो गयी है, जिनमें 35 व्यक्ति स्वस्थ हो गये हैं तथा वर्तमान में 44 व्यक्ति उपचाररत् हैं जिनमें 3 व्यक्ति अन्य प्रदेश के हैं।
विज्ञप्ति जारी किये जाने तक अन्य राज्यों से आने वाले कुल 244 व्यक्तियों की सैम्पलिंग संकलित की गयी जिनमें, आशारोड़ी चैकपोस्ट पर 25, रायवाला चैकपोस्ट पर 14, धर्मावाला में 31,  दून मेडिकल कालेज में 33, महन्त इन्द्रेश अस्पताल में 16, कोरोनेशन में 1 बिधोली में 118, हाॅटल सालिटियर में 6 सैम्पल शामिल हैं। इसके अतिरिक्त 123 व्यक्तियों की रैण्डम सैम्पलिंग की गयी जिसमें आशारोड़ी चैकपोस्ट पर 22, रायवाला चैकपोस्ट पर 9 होटल सोलिटियर में 29, स्पोर्टस कालेज रायपुर में 63, सैम्पल शामिल हैं।

जनपद में आज आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा कुल 37077 व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी की की गयी। इसी प्रकार आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा जनपद में होम क्वारेंटीन किये गये कुल 858 व्यक्तियों की निगरानी का कार्य किया गया। इसी क्रम में अन्य राज्यों से जनपद में पंहुचे कुल 1080 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण एवं सैम्पल प्राप्त करने के उपरांत संस्थागत क्वारेंटाइन किया गया।

कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत लाॅक डाउन अवधि के दौरान जनपद में बनाये गये 3 राहत शिविरों में ठहरे हुए 31 व्यक्तियों का चिकित्सकों एवं परामर्शदाताओं द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण उपरान्त कांउसिलिंग प्रदान की गयी। कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत दिहाड़ी/मजदूरी करने आये 17 श्रमिकों जिन्हे रेन बसेरा लालपुल में  बनाये गये राहत शिविर में ठहराया गया है, की साईकेट्रिक सपोर्ट टीम द्वारा रिवाइस्ड कांउसिलिंग की गयी।

आज विभिन्न ड्यूटियों में तैनात कार्मिकों को 314 एन-95 मास्क,  5240 ट्रीपल लेयर मास्क, 234 पीपीई किट, 410 वीटीएम वायल, 191 सेनिटाईजर, 125 सर्जिकल गलब्स, 1100 एग्सामिनेशन गलब्स  वितरित किये गये। कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु समस्त मेडिकल स्टोर पर बिना चिकित्सक के परामर्श की पर्ची के सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयों का विक्रय प्रतिबन्धित किये जाने के उपरान्त समस्त मेडिकल स्टोर स्वामियों द्वारा जनपद में कुल 112 व्यक्तियों को चिकित्सकीय पर्ची के आधार पर सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयां विक्रय की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here