संक्रमण की रोकथाम के हेतु टीमों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य किया जा रहा है : डीएम

0
56
Listen to this article

संक्रमण की रोकथाम के हेतु टीमों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य किया जा रहा है : डीएम

क्वारेंटाईन  किये जाने हेतु जनपद अवस्थित 10 संस्थान / होस्टल का अधिग्रहण

आज 25 व्यक्ति कोरोना के उपचाररत् हैं

देहरादून(जि.सू.का)। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है जनपद कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के दृष्टिगत जनपद में लगातार विभिन्न टीमों द्वारा सामुदायिक निगरानी का कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों के माध्यम सम्बन्धित क्षेत्र में घर-घर सम्पर्क करते हुए व्यापक स्तर पर सामुदायिक निगरानी का कार्य किया जा रहा है। जिन व्यक्ति 5यों को होम क्वारेंटीन एवं इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटीन किया गया निर्धारित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे, नियमों का उल्लंघन करने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्रवाही की जायेगी। आज विभिन्न राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की जनपद के सीमाओं पर रैपिड टेस्टिंग का कार्य शुरू कर दिया गया है, जिसमें आज 44 व्यक्तियों के सैम्पल प्राप्त किये गये। जिलाधिकारी ने नगर निगम को कल 24 मई 2020 को नगर निगम क्षेत्रान्तर्गत विभिन्न बाजार में साफ-सफाई एवं सेनिटाइजेशन करने के निर्देश दिये गये हैं।

क्वारेंटाईन  किये जाने हेतु  जनपद अवस्थित 10 संस्थान/होस्टल का अधिग्रहण

जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत संक्रमित व्यक्ति चिन्हित होने के फलस्वरूप चिन्हित व्यक्तियों के चिकित्सकीय पर्यवेक्षण में क्वारेंटाईन  किये जाने हेतु  जनपद अवस्थित 10 संस्थान/होस्टल यथा देवभूमि इंस्टीट्यूट आॅफ टैक्नाॅलाजी सुद्धोवाला, शिवालिक कालेज आॅफ इंजीनियरिंग शीशमबाड़ा, माया ग्रुप आॅफ कालेज सेलाकुई, उत्तरांचल डेन्टल कालेज लालतप्पड़ माजरीग्रांट एवं हिमालयन आयुर्वेदिक योग एवं प्राकृतिक संस्थान फतेहपुर डांडा, अंशिका फोर्ड- पौंधा, यूथ जैम्स- पौंधा, अरिहंत होम पौंधा, अंकुर पैलेस- कण्डोली एवं अशोका हाॅस्टल- कण्डोली को Uttarakhand Epidemic Diseases, COVID-19 Regulations, 2020 Epidemic Diseases Act  1897     में वर्णित प्राविघानों के अन्तर्गत अधिग्रहण किया गया है।
जनपद देहरादून स्थित महाराणा प्रताप स्पोर्टस कालेज रायपुर  से विभिन्न जनपदों के 616 व्यक्तियों को 28 बसों के माध्यम से सम्बन्धित जनपदों में भेजा गया, जिसमें पौड़ी गढवाल के 101, उत्तरकाशी के 172, टिहरी गढवाल के 101, चमोली के 17, हरिद्वार के 20, रूद्रप्रयाग के 80, उधम सिंह नगर के 9, नैनीताल के 29, अल्मोड़ा के 27, पिथौरागढ के 11 बागेश्वर के 22 चम्पावत के 27 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण एवं थर्मल स्क्रीनिंग के उपरान्त सम्बन्धित जनपदों हेतु भेजा गया तथा हल्द्वानी भेजे गये वाहन में धामपुर उत्तर प्रदेश के 1 व्यक्ति को हल्द्वानी जाने वाली बस में गृह  जनपद हेतु भेजा गया है।
जनपद में विभिन्न विकासखण्ड वार मनरेगा कार्याें के अन्तर्गत आतिथि तक 1007 निर्माण कार्य प्रारम्भ किये गये, जिनमें 13423 श्रमिकों को सैनिटाईजेशन एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन करवाते हुए उक्त कार्य में योजित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया।

कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत किये गये लाॅक डाउन अवधि में विभिन्न संस्थाओं एवं व्यक्तियों द्वारा निरन्तर निराश्रित एवं निर्धन परिवारों/ व्यक्तियों हेतु भोजन के पैकेट एवं राशन उपलब्ध करवाकर जिला प्रशासन का सहयोग किया जा रहा है। इसी क्रम में आज विभिन्न स्वंयसेवी संस्थाओं ने जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान करते हुए भोजन पैकेट उपलब्ध कराये, जिसमें मुख्यतः राधास्वामी सत्संग व्यास, सत्य सांई सेवा संस्थान, ग्लोबल गाॅडमदर फाउंडेशन राजपुर रोड, कालिका मन्दिर समिति, स्काउट गाईड/सिविल डिफेंस, सीता रसोई-बालाजी सेवा समिति द्वारा भोजन के पैकेट उपलब्ध कराये गये। जनपद सदर क्षेत्रान्तर्गत कुल 2796 व्यक्तियों को  भोजन के पैकेट वितरित किये गये जिनमें, थाना पटेलनगर में 500, पटेलनगर चैकी में 580, धारा चैकी में 100, इन्दिरानगर चैकी में 100, थाना रायपुर में 200, थाना नेहरूकालोनी में 500, आईएसबीटी चैकी में 600, नगर निगम में 80, कचहरी में 82, घंटाघर में 22, पत्थरीबाग में 2, ट्रांस्पोर्टनगर में 20, आईटी पार्क में 10, व्यक्तियों को भोजन के पैकेट वितरित किये गये।

जनपद के  विभिन्न चयनित स्थानों पर प्रशासन द्वारा अधिकृत 11 मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ते दरों पर 74.50 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया। जिला प्रशासन की टीम द्वारा जनपद के ऋषिकेश नगर निगम क्षेत्र में अवस्थित आशुतोष नगर/बैराज रोड ऋषिकेश में खाद्य एवं दैनिक उपयोग की आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवाई गयी। जिलापूर्ति विभाग कन्टेंनमेंट आशुतोष नगर/बैराज रोड ऋषिकेश में 2 गैस सिलेण्डर वितरित किये गये। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत आशुतोष नगर/बैराज रोड में 473 उपभोक्ताओं को खाद्यान उपलब्ध कराया गया।

दुग्ध विकास विभाग द्वारा गुरू रोड पटेलनगर में 25,  आशुतोष नगर में ऋषिकेश में 35 ली0, बैरा कालोनी में 30 कुल 90 ली0 दूध विक्रय किया गया।

जिला प्रशासन की टीम द्वारा स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद अन्तर्गत विकासखण्ड चकराता, विकासनगर, सहसपुर, रायपुर व डोईवाला एवं तहसील सदर में कुल 897 निराश्रित पशुओं जिसमें 537 श्वान, 314 गौवंश एवं 46 अन्य पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया। जिला प्रशासन द्वारा आज 505 अन्नपूर्णा किट वितरति की गयी जिनमें, कोतवाली दून में 100, थाना राजपुर में 50, थाना डालनवाला में 100, तहसील मसूरी में 250 एवं तहसील सदर में 5 अन्नपूर्णा किट वितरित की गयी।

कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के दृष्टिगत डाॅ ए.के डिमरी एवं जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी जी.सी कण्डवाल द्वारा स्पोर्टस कालेज में 70 व्यक्त्यिों को प्रशिक्षण दिया गया तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने हेतु औषधि का वितरण भी किया गया। कोविड-19 के संक्रमण के  दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 70 काॅल प्राप्त हुई हैं, जिनमें 69 पास एंव 1 मेडिकल सम्बन्धी काल प्राप्त हुई।

जनपद में कोरोना वायरस से संक्रमण के प्रसार को रोके जाने के दृष्टिगत सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए निबन्धन कार्यालयों में आज जन सामान्य द्वारा कुल 67 लेख पत्रों का पंजीकरण (रजिस्ट्री) कराई गयी, जिससेे  74.22 लाख का राजस्व प्राप्त हुआ।

अभी 25 व्यक्ति कोरोना के उपचाररत् हैं

जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने यह भी अवगत कराया है आज कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत 119 सैम्पल जाचं हेतु भेजे गये तथा 198 सैम्पल प्राप्त हुए जिनमें 2 व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में कोरोना पाॅजिटिव संक्रमितों की संख्या 56 हो गयी है, जिनमें 29 व्यक्ति स्वस्थ हो गये हैं तथा वर्तमान में 25 व्यक्ति उपचाररत् हैं।
विज्ञप्ति जारी किये जाने तक कुल 76 व्यक्तियों की रैण्डम सैम्पलिंग संकलित की गयी जिनमें, आशारोड़ी चैकपोस्ट पर 31, कुल्हाल चैक पोस्ट पर 9, रायवाला चैकपोस्ट पर 6 और महाराणा प्रताप स्पोर्टस कालेज रायपुर में 30 सैम्पल शामिल हैं।
जनपद में आतिथि तक आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा कुल 30984 व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी की जा रही है। इसी प्रकार आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा जनपद में होम क्वारेंटीन किये गये कुल 1582 व्यक्तियों की निगरानी का कार्य किया गया। इसी क्रम में अन्य राज्यों से जनपद में पंहुचे कुल 389 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण एवं सैम्पल प्राप्त करने के उपरांत संस्थागत क्वारेंटाइन किया गया।
कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत लाॅक डाउन अवधि के दौरान जनपद में बनाये गये 3 राहत शिविरों में ठहरे हुए 143 व्यक्तियों का चिकित्सकों एवं परामर्शदाताओं द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण उपरान्त कांउसिलिंग प्रदान की गयी। कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत दिहाड़ी/मजदूरी करने आये 6 श्रमिकों जिन्हे आश्रम पद्धति स्कूल हरिपुर कालसी में  बनाये गये राहत शिविर में ठहराया गया है, की साईकेट्रिक सपोर्ट टीम द्वारा रिवाइस्ड कांउसिलिंग की गयी।

आज विभिन्न ड्यूटियों में तैनात कार्मिकों को 165 एन-95 मास्क, 100 ट्रिपल लेयर मास्क, 50 पीपीई किट, 50 वीटीएम वायल, 255 सर्जिकल गलब्स, 600 एग्सामिनेशन गलब्स तथा 123 सेनिटाइजर वितरित किये गये।

कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु समस्त मेडिकल स्टोर पर बिना चिकित्सक के परामर्श की पर्ची के सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयों का विक्रय प्रतिबन्धित किये जाने के उपरान्त समस्त मेडिकल स्टोर स्वामियों द्वारा जनपद में कुल 79 व्यक्तियों को चिकित्सकीय पर्ची के आधार पर सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयां विक्रय की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here